रेडीमेड कपड़े का बिजनेस कैसे करे ? fabric business idea

    fabric business idea: फैब्रिक Business शुरू करने और इस इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने के लिए आपको कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है. अतः इस फैब्रिक इंडस्ट्री में एंट्री करने से पहले आपके लिए कुछ जरूरी चीजें जान लेना बेहतर है. हर Business की अपनी कुछ चुनौतियां होती है और फैब्रिक इंडस्ट्री इससे कुछ अलग नही है

    किसी भी तरह की इंडस्ट्री में अपने Business की पहचान बनाना मुश्किल होता है. हालांकि, यह बात तब खासतौर पर सच हो जाती है, जब बात फैब्रिक Business की हो रही होती है. अधिकतर इंडस्ट्रीज जब अपने चार साल पुरे कर लेती है तो उनका सक्सेस रेट करीब 50 प्रतिशत हो चुका होता है जबकि फैब्रिक्स इंडस्ट्री के साथ ऐसा कुछ नही है

    online fabric stores quilting

    इस इंडस्ट्री के 53 प्रतिशत से ज्यादा एंटरप्रेन्योर्स शुरूआती चार वर्षो में अपने तय लक्ष्यों तक नही पहुंच पाते. अगर आप भी फैब्रिक इंडस्ट्री में सफलता पाने की कोशिश कर रहे है या इस इंडस्ट्री में Business करना चाहते है तो जरूरी है कि आप इस Business की हर चीज को बारिकी से जान लें |

    आपको फैब्रिक इंडस्ट्री में अपना Business शुरू करने से पहले इसके बारे में पुरी तरह से पता कर लेना चाहिए और Business के हर पहलु से परिचित हो जाना चाहिए. अगर आप ऐसा नही करेंगे तो आप इसमें कभी पहचान नही बना पाएंगे और न ही सफलता हासिल कर सकेंगे. आइए जानते है कि भारत में फैब्रिक Business शुरू करने से पहले किन चीजों के बारे में जानना जरूरी है |

    रेडीमेड कपड़े का बिजनेस कैसे करे ?

    • लक्ष्य को लेकर स्पष्टता सभी दुसरे Business की तरह फैब्रिक Business शुरू करने का पहला कदम होता है अपना लक्ष्य तय करना. जब तक आप अपने लक्ष्य को लेकर स्पष्ट नही होंगे, तब तक आप सही तरीके से अपने Business को नही चला सकेंगे. इस Business में आप रिटेलर, होलसेलर, मैन्युफेक्चरर या कुछ और भी बन सकते है लेकिन आपके दिमाग में आपके लक्ष्य और टारगेट ऑडियंस की तस्वीर बिल्कूल साफ होनी चाहिए. इससे आप फैब्रिक Business को मजबुत शुरूआत देते है. इसलिए सबसे पहले अपने लक्ष्य को चुने और फिर आगे बढ़े 
    • पूंजी का ध्यान यह किसी भी Business के लिए एक महत्वपुर्ण काम होता है. आपको अपने फैब्रिक Business को सही तरीके से शुरू करने और उसे आगे ले जाने के लिए पुंजी की जरूरत होती है. Business शुरू करने के लिए पुंजी जमा करनी होती है और इसके लिए आपको शुरूआत में ही निवेश या लोन के विकल्पों के बारे में योजना बनानी होती है. यही पुंजी आपके Business के लिए रीढ़ की हड्डी का काम करती है और मुश्किल समय में Business को विफलता से बचाती है. यही वजह है कि आपको पुंजी जमा करने के लिए सही ढंग से प्लानिंग करनी चाहिए और गलती की आशंका नही छोड़नी चाहिए. एक बार पुंजी, निवेश आदि की व्यवस्था हो जाने के बाद आप अपने फैब्रिक Business को व्यवस्थित तरीके से आगे बढ़ा सकते है
    • मार्केट ट्रेंड्स फैब्रिक मार्केट में ट्रेंड्स आए दिन बदलते रहते है और एक एंटरप्रेन्योर होने के नाते आपको इन बदलावों के प्रति सचेत रहना चाहिए. आपको पता होना चाहिए की मार्केट में क्या ट्रेंड चल रहा है और इस ट्रेंड का आकलन करना चाहिए. आपको मार्केट और उसके ट्रेंड्स की जितनी जानकारी होगी, Business के लिए उतना अच्छा होगा. इसके लिए आप Online Website की मदद ले सकते है और नए ट्रेंड्स पर नजर रख सकते है. याद रखें परिवर्तन हर Business का Rule है और इसे आपको Follow करना ही पड़ेगा, वरना आप Business में मात खा सकते है.
    • लीगल मैटर्स स्पष्ट लक्ष्य और पुंजी के साथ ही हर Business के साथ अपने कुछ लीगल पहलु भी होते है. इसी तरह फैब्रिक Business में भी कुछ लीगल मैटर्स होते है. उदाहरण के तौर पर ट्रेंड लाइसेंस हासिल करना, खरीदी करना या जगह किराये पर लेना आदि. आपकी लोकेशन और Business की साइज के आधार पर नियम और जरूरतें अलग-अलग हो सकती है लेकिन यह आपके लिए आवश्यक भी होती है. अतः आपको अपने Business के जुड़े हुए लीगल मैटर्स का ध्यान जरूर रखना चाहिए और सभी नियमों का पालन करना चाहिए ताकि आपको बाद मे Business के दौरान कोई परेशानी न हो. 
    • लॉजिस्टिक्स पूंजी के साथ-साथ आपको अपना फैब्रिक Business शुरू करने से पहले लॉजिस्टिक्स के बारे में भी सोचना होता है. उदाहरण के तौर पर यदि आप रिटेल के क्षेत्र मे जाना चाहते है तो आपको अपने शोरूम, स्टोरेज के लिए लोकेशन, ट्रांसपोर्टेशन आदि के इंतजाम करने होते है ताकि सब सही से चलें
    • मार्केटिंग हर Business की तरह फैब्रिक इंडस्ट्री में भी मार्केटिंग का अहम योगदान होता है. यदि आप अपने फैब्रिक ब्रांड को पहचान दिलवाना चाहते है तो आपको भी बेहतरीन तरीके से उसकी मार्केटिंग जरूर करनी चाहिए. इसके लिए आप Online और Offline दोनों तरह से काम कर सकते है. Online आप Website बनाकर या दुसरे Website पर अपने ब्रांड का प्रमोशन करवाकर मार्केटिंग कर सकते है और Offline आप लोगों को मार्केटिंग के लिए रख सकते है. इसमें आप उनकी Salary और कमीशन रख सकते है, जिससे वे खुले दिमाग से और मेहनत से काम करें. 
    • डिमांड का आकलन किसी भी दुसरे Business की तरह एक फैब्रिक एंटरप्रेन्योर होने के नाते आपको अपने कस्टमर्स की डिमांड को अच्छी तरह से समझना चाहिए. जब तक आप अपने कस्टमर्स की मांग और जरूरतों को सही ढ़ंग से नही समझेंगे, तब तक आप उन्हें सही तरह की चीज नही उपलब्ध करवा पाएंगे जिससे वह कस्टमर्स आपसे दूर होते चले जाएंगे और आपका फैब्रिक Business विफलता की ओर बढ़ने लगेगा. बेहतर यही है कि आप अपने कस्टमर्स की डिमांड का आकलन करें और उन्हे उनकी जरूरत के हिसाब से सही एवं बेहतर प्रॉडक्ट दें|