गे क्या होता है का अर्थ पहचान | गे मीनिंग इन हिंदी

    gay meaning in hindi नाम तो सूना होगा गे लेकिन गे क्या होता है गे का मतलब अर्थ क्या होता है गे की पहचान क्या होता है आगे जाने गे क्या होता है का अर्थ पहचान गे मीनिंग इन हिंदी.

    gay meaning in hindi

    गे क्या होता है ?

    गे इंग्लिश शब्द है जिनका हिंदी रूपांतरण समलैंगिक होता है गे को अन्य नाम से पुकारते है जैसे - हंसमुख, लापरवाह, उज्जवल और दिखावटी. गे का इस्तेमाल पुरुषो के किया जाता है लेकिन महिलाए जो समलैंगिक है वह भी खुद को गे का नाम दे सकती है. वैसे गे शब्द पुरुष के लिए बनाया गया है और महिलाओं के लिए लेस्बियन मतलब पुरुष अगर समलैंगिक हो तो उसे गे और महिला अगर समलैंगिक हो तो उसे लेस्बियन कहा जाता है. लेकिन गे का इस्तेमाल महिला और पुरुष दोनों के लिए किया जाता है

    एक पुरुष का दुसरे पुरुष के तरफ आकर्षण होना गे के नाम से जाना जाता है और एक महिला का दुसरे महिला की तरफ आकर्षित होना लेस्बियन के नाम से जाना जाता है. महिला और पुरुष अपने ही समलैंगिक के साथ फिजिकल भी होते है इसी को गे या लेस्बियन के नाम से जाना जाता है.

    गे की पहचान कैसे करे ?

    • गे की पहचान करना आसान नहीं है लेकिन जब कोई गे आपकी तरफ आकर्षित होता है तो वह कुछ उपाय आपको आकर्षित करने के लिए करते है जिनसे आप गे की पहचान कर सकते है
    • गे अक्सर आपको भीड़भाड़ वाले में रहते है और अगर वह आपसे आकर्षित होता है तो सबसे पहले वह आपसे बात करने की कोशिश करेगा
    • एक बार बात शुरू हो जाने के बाद आपसे मोबाईल नंबर लेने की कोशिश करेंगा
    • अगर उसकी इच्छा हुई तो आपके जिस्म के किसी पार्ट पर हाथ लगा सकता है और अपने गे होने के साथ आपकी तरफ आकर्षित है इसकी पहचान वह खुद करवा सकता है.
    • गे दिखने में एकदम नार्मल होते है आम व्यक्ति की तरह लेकिन समय समय पर अपने दोस्तों में अपना साथी की तलाश में रहते है
    • गे को लडकियों से कम लडको से ज्यादा बात करने में मजा आता है
    • गे की खाश बात वह रात में आपके घर आने को कहेगा अगर वह आपसे सम्पर्क में है
    • गे से आप पैसे भी मांग सकते है कुछ गे अपनी इच्छा पूरी करने के लिए ऐसा भी करते है

    गे का प्राचीन इतिहास

    • आदि मानव में युग में जब समाज सभ्यता कुछ मौजूद नहीं था उस समय समलैंगिक होना एक साधारण सी बात माना जाता था. विश्व में उस समय आदिवासी समुदाय में समलैंगिक रिश्ते किसी रोकटोक के बिना बनाया जा सकता था साथ ही इसके लिए कई तरह के सामजिक रीती रिवाज भी बनाये गये थे
    • प्राचीन इतिहास से पता चलता है उस समय समलैंगिक होना एक कला, बौद्धिकता और नैतिक गुण के आधार पर देखा जाता था
    • प्राचीन इतिहास में कुछ देवताओं को समलैंगिक कहा गया जैसे होरेस और सेठ
    • रोम देश में समलैंगिक होना कोई बुरी बात नहीं थी
    • पुनर्जागरण काल के विचारक, दार्शनिक, लेखक खुद को गे नाम दिया करते थे क्योकि उन्हें गे होने में गर्व महसूस होता
    • माइकल एंजेलो जो की एक फेमस शिल्पकार था वह खुद को गे कहा करते थे
    • समलैंगिक की शुरुवात इटली से शुरू हुई माना जाता है
    • फिल्मो में बहुत ऐसे फिल्म बनी है जिनमे समलैंगिक दिखाया गया है इस बात से प्रमाण मिलता है राजा महराजा भी गे होते थे.