ग्रीन टी क्या है के फायदे नुकसान बनाने की विधि

    चाय का सेवन भारत के लोग सुबह शाम करना पसंद करते है अब इसकी जगह एक नयी चाय धीरे धीरे ले रहा है जिसे ग्रीन टी के नाम से जाना जाता है आज के समय में लोग साधारण चाय का सेवन बंद करके ग्रीन टी पीना पसंद कर रहे है आगे जाने ग्रीन टी क्या है के फायदे नुकसान बनाने की विधि.

    ग्रीन टी क्या है

    ग्रीन टी मुख्य रूप से शरीर के लिए काफी फायदेमंद और स्वस्थ होती है। यह शरीर के मेटाबोलिज्म को बढ़ाती है और वजन नियंत्रण करने में मदद करती है। रोजाना 1 से 2 कप ग्रीन टी पीने से शरीर स्वस्थ रहता है और पाचन क्रिया मजबूत रहती है
    green tea banane ki vidhi

    ग्रीन टी बनाने की विधि

    • सबसे पहले आप साफ पानी को गरम करे
    • अब आप ग्रीन टी पत्ती या फिर ग्रीन टी बेग एक कप मे रख दे |
    • याद रहे एक कप मे एक ही टी बैग रखे या फिर एक चम्मच खुली पत्तिया |
    • अब आप उबाले गए पानी को सीधे कप मे डालिए |
    • अब ग्रीन टी मिश्रण को हिला कर 2 मिनट के लिए कप ढके |
    • 2 मिनट से अधिक समय तक न रखे क्योकि हो सकता है आपको चाय कड़वी लगे |
    • अब आपकी ग्रीन टी तैयार है |
    • अगर आपने ग्रीन टी बैग से टी बनाया है तो बैग अब निकाल ले और अगर पत्तियों से बनाया है तो टी को छान ले.

    ग्रीन टी के फायदे

    ग्रीन टी मे प्रचुर मात्र मे एंटी - ऑक्सीडेंट पाया जाता है यह बढ़ती उम्र से शरीर के सेल्स को होने वाले नुकसान से बचाता है एंव कम करता है साथ ही प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है जिससे आप कई बीमारियो से बचे रह सकते है |
    • किसी भी तरह की चाय में कैफीन होते हैं जो स्टीमुलेटर होते हैं। इनसे शरीर में फुर्ती का अहसास होता है। कैफीन आपको अलर्ट और स्मार्ट बनाता है। हालांकि कैफीन लिमिट में ही लेना चाहिए। 
    • ग्रीन टी में मौजूद एल-थियेनाइन नामक कंपाउंड दिमाग को ज्यादा अलर्ट, लेकिन शांत रखता है यानी ब्रेन बेहतर काम करता है। 
    • ग्रीन टी में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। इससे इन्फेक्शन का खतरा कम होता है। 
    • यह BMR यानी बेसल मेटाबॉलिक रेट को बढ़ाती है। इससे वजन कम करने में मदद मिलती है

    ग्रीन टी के नुकसान

    अगर कोई चीज फायदेमंद होती है तो उसके कुछ नुकसान भी होते ठीक ग्रीन टी के साथ भी ऐसा है अगर आप 5 कप से ज्यादा ग्रीन टी दिन मे लेते है तो इसमें मौजूद कैफीन और टैनिन पेटदर्द, उलटी, कब्ज, सिरदर्द, नींद न आना, बेचैनी, डायरिया, सीने में जलन, चक्कर आना, कानों में झनझनाहट आदि की वजह बन सकते हैं। ग्रीन टी ज्यादा पीने से ये नुकसान भी हो सकते हैं
    • अगर आपको अनीमिया है तो ग्रीन टी ज्यादा पीने से परेशानी बढ़ सकती है ऐसे में आप खाने के साथ ग्रीन टी या कोई भी चाय न लें
    • कैफीन ज्यादा मात्रा में लेने से शरीर में कैल्शियम कम जज्ब हो पाता है। इससे ऑस्टियोपॉरोरिस का खतरा बढ़ जाता है
    • प्रेग्नेंट या बच्चे को दूध पिलानेवालीं महिलाओं को दिन में 2 कप से ज्यादा ग्रीन टी नहीं पीनी चाहिए। मां के दूध के जरिए बच्चे में भी कैफीन जाता है जो उसके लिए सही नहीं है

    ग्रीन टी पीने का सही समय

    • कभी भी खाली पेट ग्रीन टी नहीं लेना चाहिए तो आप सुबह मे बिलकुल इसे न पिए |
    • नाश्ते एंव भोजन के बाद आप इसे 1 घंटे बाद ले सकते है |
    • रात्रि के समय green tea न ले क्योकि इसमे मौजूद है कैफीन जो अनिद्रा का कारण हो सकता है |