जीएसटी का मतलब क्या होता है का अर्थ इतिहास हिंदी में

    gst meaning in hindi जीएसटी या वस्तु एंव सेवा कर भारत सरकार द्वारा लागु किया गया एक कानून है इसके तहत सभी राज्यों में एक समान कर लगेगा आगे जाने जीएसटी का मतलब क्या होता है का अर्थ इतिहास हिंदी में

    जीएसटी क्या होता है ?

    जीएसटी मतलब गुड्स एंड सर्विस टैक्स एक अप्रत्यक्ष कर यानि इंडाइरेक्ट टैक्स है |जीएसटी के तहत वस्तुवों और सेवाओ पर एक समान टैक्स लगाया जाता है जहां जीएसटी लागू नहीं है, वहाँ वस्तुवों और सेवाओ पर अलग - अलग टैक्स लगाए जाते है |इसके लागू होने से हर समान और हर सेवाओ पर सिर्फ एक टैक्स लगेगा एक्साइज और सर्विस टैक्स जैसे करो की जगह सिर्फ एक ही टैक्स लगेगा

    gst ka matlab

    जीएसटी का इतिहास अर्थ मतलब

    • जीएसटी की नीव आज से 16 वर्ष पहले अटल बिहारी बाजपाई की सरकार मे रखी गई थी | 
    • वर्ष 2007 मे UPA की सरकार के दौरान वित्त मंत्री पी. चिंदबरम ने बजट मे 2010 से GST लागू करने का प्रस्ताव दिया था
    • सेध्दांतिक रुप से बीजेपी और कांग्रेस दोनों GST का समर्थन करते रहे है लेकिन कुछ बिन्दु ऐसे रहे थे जिनकी वजह से इस बिल को राज्यसभा मे कांग्रेस का समर्थन नहीं मिल रहा था | 
    • कांग्रेस केंद्र द्वारा सभी सेवाओ और वस्तुवों पर 1 प्रतिशत ज्यादा कर लगाए जाने के फैसले के विरोध मे थी जिसे सरकार ने बिल से हटा दिया |
    • कांग्रेस चाहती थी की सरकार GST पर 18 प्रतिशत का Cap तह करे यानि GST के तहत टैक्स की दर हमेशा के लिए 18 प्रतिशत ही हो | जिसे आगे चलकर सरकार अपनी मनमर्जी से न बढ़ा पाए
    • दुनिया के करीब 165 देशो मे GST की वयवस्था लागू है | यानि इन देशो मे भारत की तरह वस्तुवों और सेवाओ पर अलग अलग टैक्स नहीं देने पड़ते |
    • न्यूजीलैंड मे 15% आस्ट्रेलिया मे 10% फ़्रांस मे 19.6% और जर्मनी मे 19% और साथ मे स्वीडन और डेनमार्क मे 25% और यहा तक की पाकिस्तान मे भी 18% की दर से GST लागू है
    • भारत सरकार एक GST Portal बनाएगी जिस पर PAN Number दर्ज करके आप अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते है रजिस्ट्रेशन के बाद आपको Unique Identification Number मिलेगा और इस नम्बर का प्रयोग करके आप एक बार मे ही Tax की Online Payment कर पाएंगे
    टैक्स स्ट्रेक्चर अंडर जीएसटी 
    • जीएसटी मे तीन तरह के कर शामिल होंगे  
    • CGST - Central Goods And Services Tax जिसे केंद्र सरकार द्वारा वसूला जाएगा 
    • SGST यानि State Goods And Services Tax जिसे राज्य सरकार द्वारा वसूला जाएगा 
    • IGST Integrated Goods And Services Tax जो दो राज्यो के बीच होने वाले कारोबार पर लगेगा और इसे दोनों राज्यो के बराबर अनुपात मे बाटा जाएग