भारतीय मुद्रा की जानकारी इतिहास

    भारत में राष्ट्रिय मुद्रा चलता है अगर आपके पास भारत की मुद्रा है तो भारत में कही पर भी घूम सकते है कुछ खरीद सकते है और अपने मनचाहे कार्यो को आसानी से कर सकते है मुद्रा को हिंदी में रु. और अंग्रेजी में Rs. से दर्शाया जाता है.

    bhartiya mudra fact

    भारतीय मुद्रा से जुड़े तथ्य जानकारी

    • इंडियन करेंसी का इतिहास 2500 साल पुराना हैं जिसकी शुरूआत एक राजा द्वारा की गई थी
    • अगर आपके पास आधे से ज्यादा 51 फीसदी फटा हुआ नोट है तो भी आप बैंक में जाकर उसे बदल सकते हैं
    • 1917 मे 1 रूपए की कीमत 13$ के बराबर थी, और जब 1917 मे भारत देश आजाद हुआ तो 1 rs. को 1$ के बराबर कर दिया गया था इंदिरा गाँधी के समय जब भारत पर कर्ज चढ़ता जा रहा था तो उन्होने रूपए की कीमत कम करने का फैसला लिया था और तब से लेकर आज तक Indian currency की कीमत घटते ही चली जा रही है !
    • अंग्रेज चाहते थे की भारत की करंसी पाउंड (pound) हो लेकिन रुपए की मजबूती के कारण ऐसा संभव नही हुआ।
    • इस समय भारत में 400 करोड़ रूपए के नकली नोट (duplicate currency) हैं।
    • I,J,O,X,Y,Z सीरियल नंबर आपको indian करेन्सी मे नही मिलेंगे ऐसा सुरक्षा कारणों से है !
    • हर भारतीय नोट पर किसी न किसी चीज की फोटो छपी (photo printed) होती हैं जैसे- 20 रुपए के नोट पर अंडमान आइलैंड की तस्वीर है। वहीं, 10 रुपए के नोट पर हाथी, गैंडा और शेर छपा हुआ है, जबकि 100 रुपए के नोट पर पहाड़ और बादल की तस्वीर (picture) है। इसके अलावा 500 रुपए के नोट पर आजादी के आंदोलन से जुड़ी 11 मूर्ति की तस्वीर छपी हैं।
    • 1 में 100 पैसे होगे, ये बात सन् 1957 में लागू की गई थी। पहले इसे 16 आने में बाँटा (divide) जाता था
    • RBI, ने जनवरी 1938 में पहली बार 5 की पेपर करंसी छापी थी. जिस पर किंग जार्ज-6 (king george) का चित्र था। इसी साल 10,000 का नोट भी छापा गया था लेकिन 1978 में इसे पूरी तरह बंद कर दिया गया।
    • आजादी के बाद पाकिस्तान (pakistan) ने तब तक भारतीय मुद्रा का प्रयोग किया जब तक उन्होनें काम चलाने लायक नोट न छाप लिए।
    • भारतीय नोट किसी आम कागज के नही, बल्कि काॅटन (cotton) के बने होते हैं। ये इतने मजबूत होते हैं कि आप नए नोट के दोनो सिरों को पकड़कर उसे फाड़ नही सकते।
    • एक समय ऐसा था, जब बांग्लादेश ब्लेड बनाने के लिए भारत से 5 रूपए के सिक्के मंगाया करता था. 5 रूपए के एक सिक्के से 6 ब्लेड बनते थे. 1 ब्लेड की कीमत 2 रूपए होती थी तो ब्लेड बनाने वाले को अच्छा फायदा होता था. इसे देखते हुए भारत सरकार ने सिक्का बनाने वाला मेटल (metal) ही बदल दिया।
    • आजादी के बाद सिक्के तांबे (copper) के बनते थे। उसके बाद 1964 में एल्युमिनियम (aluminium) के और 1988 में स्टेनलेस स्टील के बनने शुरू हुए।
    • भारतीय नोट पर महात्मा गांधी (mahatma gandhi) की जो फोटो छपती हैं वह तब खीँची गई थी जब गांधीजी, तत्कालीन बर्मा और भारत में ब्रिटिश सेक्रेटरी (british secretary) के रूप में कार्यरत फ्रेडरिक पेथिक लॉरेंस के साथ कोलकाता स्थित वायसराय हाउस में मुलाकात करने गए थे। यह फोटो 1996 में नोटों पर छपनी शुरू हुई थी। इससे पहले महात्मा गांधी की जगह अशोक स्तंभ छापा जाता था

    भारतीय नोट पर कितने और कौन सी भाषा लिखा हुआ है ?

    1. भारतीय रुपया (Hindi) 
    2. ভাৰতীয় টকা (Assamese)
    3. ভারতীয় টাকা (Bengali)
    4. ભારતીય રૂપિયો (Gujarati)
    5. ಭಾರತದ ರೂಪಾಯಿ (Kannada)
    6. بًآرتسے رۄپے (Kashmiri)
    7. भारती रुपय (Konkani)
    8. ഇന്ത്യൻ രൂപ (Malayalam)
    9. भारतीय रुपया (Marathi)
    10. भारतीय रुपियाँ (Nepali)
    11. ଭାରତୀୟ ମୁଦ୍ରା (Odia)
    12. ਭਾਰਤੀ ਰੁਪਈਆ (Punjabi)
    13. भारतीयरूप्यकम् (Sanskrit)
    14. இந்திய ரூபாய் (Tamil)
    15. భారత్ రూపాయి (Telugu)
    16. بھارتی روپیہ (Urdu