जीन्नात को एक दिन मे वश करने का आसान अमल तरीका

    बहूत से लोगों के मन मे जीन्नात की अमीलीयात करने की ख्वाइस होती है ! और उसके लिए कई तरीके अपनाते है लेकिन उन्हे कामयाबी नही मिलती ! और फ़िर कामयाबी ना मिलने पर वह हज़रत (शख्स) अमल को गलत ठहराते है ! तो उनको बताना चाहूंगा अमल गलत नही होता है बल्की अमल करने वाले की गलती होती है ! इसलिए जो इरादा रखते हो जिन जीन्नात का अमल करने का वह शख्स नगीना बाबा शाह द्वारा बताए गये अमल को कर सकते है ! और यह अमल एक राज़ है और इस अमल को इसलिए आपको बता रहा हूँ की दुनिया के लोगों की भलाई हो सके ! और याद रखे यह अमल कभी खता नही होता और बिना इजाजत ना करे ! और अगर करना हो तो किसी उस्ताद की निगरानी मे करे ! या फ़िर नगीना बाबा शाह की इजाजत लेकर करे वरना रूज्जात का खतरा 

    Jinnat

    जीन्नात को एक दिन मे वश मे करने का आसान अमल तरीका

    नौचंदी जूमेरात की रात मे ग्यारह बजे रात मे अमल करना शुरू करे और कपड़ा साफ और सफेद हो फ़िर गुस्ल करके खुशबू वगेरह भी लगा ले और लोहबान भी अपने बगल मे जला ले ! जब यह सब कर चुके हो फ़िर इत्मीनान से बैठ जाए और हिसार करे 

    kufl kardam lailaha illallah muhar kardam banam muhammdarrasulullah

    ऊपर बताए गये हिसार को 1 छुरी पर पढ़कर उस छुरी से अपने चारो तरफ़ एक गोले की तरह बंधन यानी हिसार खींच दें और अब 3 मर्तबा दरूद शरीफ पढ़े और 300 मर्तबा सुरह जिन्न पढ़े ! ऐसा करने पर बिच मे आपको डरावनी सूरते नज़र आयेगी लेकिन आप बिल्कुल खौफ ना खाए क्योंकि वह आपको कुछ भी नही करेंगी ! जब तादाद पूरी होगी तो सामने की दीवार फट जाएगी और जीन्नो को बादशाह आपके सामने हाज़िर होगा ! याद रहे 300 बार पढ़ने के बाद 3 बार दरुद शरीफ ज़रूर पढ़े फ़िर वह जिन्न बादशाह आपको सलाम करेगा और आपसे सवालात करेगा और आपसे सवालात पूछेगा आपने क्यू बुलाया etc. वह आपको खजाने का लालच भी देगा लेकिन आप उससे कतई उस वक्त कुछ भी ना ले और ना ही कोई उसकी शर्त माने ! फ़िर वह जिंदगी भर आपका तबीह रहेगा और आपकी हर मदद करेगा