मिसकैरेज का मतलब क्या होता है से बचने के उपाय

    miscarriage matlab kya hota hai जब किसी महिला को प्राकृतिक रूप से गर्भपात हो जाता है तो उसे मिसकैरेज कहते है यह महिला गर्भावस्था के प्राम्भिक मे अधिक होता है महिला गर्भवती हो जाती है लेकिन उन्हे पता ही नहीं होता की वह गर्भवती हो गई है तो गर्भपात हो सकता है आगे जाने मिसकैरेज का मतलब क्या होता है से बचने के उपाय लक्षण

    miscarriage se bachne ke upay

    मिसकैरेज के लक्षण

    • रक्त स्त्राव 
    • गंभीर ऐंठन 
    • पेट में दर्द 
    • बुखार 
    • कमजोरी 
    • पीठ में दर्द 
    • ब्रैस्ट का सख्त हो जाना 
    • सफेद और गुलाबी रंग का डिसचार्ज नज़र आना 
    • वजन का कम होना 
    • पीरियड के संकेत होना

    मिसकैरेज होने से बचाव कैसे करे ?

    अगर आप गर्भवती है तो आपको अपनी और शिशु दोनों की देखभाल करनी होगी जिससे आप एंव शिशु दोनों स्वस्थ और तंदरुस्त रहे | गर्भवस्था के समय आपको अपने खान पान के साथ कुछ और भी चीजों का ध्यान रखना चाहिए जैसे - भारी वस्तु न उठाए, धीरे धीरे चले, पेट पर बल देने वाला काम न करे इत्यादि | सबसे अधिक आपको गर्भवस्था के 3 महीने तक सावधानी रखने की जरूरत है क्योकि इन तीन महीनो मे मिसकैरेज का खतरा अधिक रहता है 
    • आप जब भी डॉक्टर के पास जाएंगी तो सबसे पहले आपको यही डॉक्टर सलाह देगा भारी समान न उठाए अधिकतर मिसकैरेज की समस्या भारी समान उठाने के कारण होती है 
    • कुछ महिलाए गर्भवती होने के बावजूद अपना ख्याल नहीं रखती है और भोजन समय से न लेती है तो आपको बता दे इस कारण भी आपके गर्भवस्था के दौरान कई समस्याए पैदा हो सकती है | इसलिए गर्भवती महिला को संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए जैसे - हरी सब्जी, प्रोटीन, दूध एंव ऊर्जा देने वाले आहार का सेवन 
    • गर्भवती महिला के सोने के तरीके पर भी ध्यान देना जरूरी है | अगर आप गलत तरीके से सो जाती है तो हो सकता है इस कारण से भी आपको मिसकैरेज हो ऐसी बहुत सी महिलाए है जिन्हे के लक्षण नहीं पता होता है और इसलिए उन लक्षणो को अनदेखा करती है 
    • अगर आप गर्भवती है तो आप कभी भी किसी भी समस्या को अनदेखा न करे तो आप समय समय पर इसके लिए डॉक्टर के पास जा सकती है 
    • आपको पता होना चाहिए कुछ फल और सब्जी मिसकैरेज के कारण बन सकते है जैसे - पपीते का सेवन, तासीर गर्म पदार्थ 
    • गर्भवती महिला को ज्यादा मेहनत भरा कार्य नहीं करना चाहिए और भागदौड़ भी न करे 
    • गर्भवती महिला को ज्यादा तनाव मे भी नहीं रहना चाहिए यह भी मिसकैरेज का कारण बन सकता है | व्यायाम कर लेकिन ध्यान रहे हल्का फुल्का व्यायाम ही करे 
    • छत पर कम जाए मतलब सीढ़ीयो का कम प्रयोग करे और हो सके तो करे ही नहीं तो बढ़िया है खुद को आराम दे