एनजीओ क्या होते है NGO के उद्देश्य

    ngo kya hota hai

    एनजीओ क्या होते है NGO के उद्देश्य

    एनजीओ एक ऐसा संगठन है जिसका उद्देश्य समाज का कल्याण करना होता है NGO का विकास अमेरिका में किया गया था क्योंकि America में सरकार के अलावा बहुत से सामाजिक कार्य इन संगठनों के द्वारा किये जाते है। यह ऐसा संगठन है जिसे कोई भी व्यक्ति चला सकता है यह एक व्यक्ति के द्वारा नही चलाया जा सकता इसे 7 या इससे अधिक व्यक्तियों का समूह मिलकर चलाते है।

    एनजीओ की शुरुवात कोई भी व्यक्ति कर सकता है लेकिन उसका उद्देश्य लोगो की भलाई का होना चाहिए मतलब समाज के कल्याण हेतु कोई भी व्यक्ति ngo की शुरुवात कर सकता है.
    हमने आपको पहले ही बताया एनजीओ के उद्देश्य लोगो और समाज के भलाई के लिए काम करना है इसलिए समाज में ऐसे बहुत से कार्य है जिसे करना ngo के उद्देश्य में शामिल किया जाता है जैसे - हम कुछ ngo के द्वारा किये गए कार्यक्षेत्रो के बारे में आपको बता रहे है -

    • महिलाओं के सर्वागीण विकास हेतु व्यावसायिक प्रशिक्षण लघु ग्राम उद्योग, गृह उद्योग की स्थापना करना एवं स्वयं सहायता समूह का गठन करना। 
    • संस्था द्वारा गरीब अविवाहित युवतियों के विवाह सम्पन्न करने के लिए हर सम्भव प्रयास करना। 
    • समय पर गरीब बच्चो और गरीबों को निःशुल्क भोजन करवाने व निःशुल्क वस्त्र वितरण का प्रयास करना तथा शिक्षा व चिकित्सा में उनकी सहायता हेतु हर सम्भव मदद करना 
    • दहेज, छुआछुत, मद्यपान, दहेज प्रथा, निरक्षरता, बाल विवाह, बधुआ मजदूरी, वैश्यावृति सामाजिक कुरीतियों के विरूद्ध जनजागरण एवं निवारण करना। 
    • बाल मजदूर को मजदूरी से छुटकारा दिलाना तथा उन्हें स्वावलम्बी बनाने के लिए शिक्षण की व्यवस्था कर एक समृद्ध समाज बनाने का प्रयास करना तथा बेटी बचाओं बेटी बढ़ाओं के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करना तथा उनकी हर सम्भव मदद करना। 
    • फिल्माकंन निर्देशांकन, लेखांकन, नृत्यागंन सामाजिक स्तर का सांस्कृतिक कार्यक्रम का संचार करना एवं करवाना।
    • बालक/बालिकाआंे के विकास एवं उत्थान हेतु गायन, नृत्य तथा अभिनय का शिक्षण-प्रशिक्षण देना एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमांे का आयोजन करना। 
    • कुटीर उद्योग को बढ़ावा देने हेतु जनता को जागरुक करने का प्रयास करना। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता पैदा करना तथा स्वच्छ भारत अभियान के तहत कार्य करना तथा शुद्ध पेयजल की व्यवस्था करना। 
    • समाज के विभिन्न वर्गो से निष्कासित तलाकशुदा, वृद्ध, विधवा निराश्रित महिलाओं, बालक/बालिकाओं के रख-रखाव एवं देख-रेख निःशुल्क शिक्षण-प्रशिक्षण, पुनर्वास की व्यवस्था संबंधित कल्याणकारी विभिन्न योजनाओं का प्रचार-प्रसार करना। 
    • राष्ट्रीय विकास एवं समाज सेवा कार्यक्रमों के संचालन में सहयोग देना जैसे-परिवार कल्याण, महिला शिक्षा, वृक्षारोपण, साक्षरता मिशन विकलांग कल्याण, पोलियों अभियान, परिवार नियोजन, जनसंख्या नियंत्रण, प्रौढ़ शिक्षा, पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण कार्यक्रमों का प्रचार-प्रसार करना।
    इस तरह के कार्यो को ही एनजीओ के उद्देश्य कहा जा सकता है. अगर आप NGO के बारे में अधिक जानना चाहते है तो कमेन्ट में अपना सवाल लिख सकते है.