पथरी का होम्योपैथिक इलाज की दवा पंतजलि

    जब कोई व्यक्ति असामान्य तरीके से खान पान शुरू करता है | तो ऐसे मे पथरी या स्टोन होने का खतरा बढ़ जाता है. इलसिए अपने खान पान को सुधार करे और pathri ki ayurvedic dawa खाने से बचे 
    फिर भी आपको पथरी हो गयी है तो आप pathri ki ayurvedic dawa से ilaj upay के तरीके कर सकते है ?
    जब किसी को पथरी की समस्या हो जाती है तो ऐसे मे कई तरह की दवाओ को प्रयोग मे लेते है इसमे मुख्य है अँग्रेजी दवा और कुछ लोग पथरी के इलाज के लिए ऑपरेशन कराते है | किडनी की पथरी, पित्त की थैली की पथरी इनमे से कोई भी पथरी हो आप घरेलू नुस्खे से बिना मेडिसिन द्वारा इलाज कर सकते है मतलब घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक दवाओ के माध्यम से आगे जाने पथरी का होम्योपैथिक इलाज की दवा पंतजलि


    pathri ki ayurvedic dawa ilaj upay hindi me

    पथरी का  सभी व्यक्तियों को अलग अलग हो सकता है जैसे पथरी 1 mm से 3mm या 8mm तक का होना पथरी का इलाज उपचार, कारण लक्षण और शरीर मे किस जगह स्टोन है उसके आधार पर किया जाता है पथरी होने पर बहुत दर्द महसूस होता है और यह पीडा कभी कभी असहनीय हो जाती है

    पथरी का होम्योपैथिक इलाज की दवा पंतजलि

    ➤ पानी - आपको बता दे पथरी होने का खतरा उन व्यक्तियों मे अधिक पाया जाता है जो पानी दिन मे कम पीते है तो ऐसे मे डॉक्टर भी सलाह देता है की पानी पीने से गुर्दे की पथरी होने का खतरा बहुत कम हो जाता है

    ➤ आहार - आहार का ध्यान देना चाहिए अगर 
    आप अपने खानपान पर ध्यान दे तो पथरी होने से बच सकते है | आहार मे सेब, पपीता, तरबूज, केला, संतरा, गेहु बाजरा इत्यादि का सेवन करे |

    ➤ नींबू पानी - नींबू मे citric acid पाया जाता है जो  पथरी के निर्माण होने से रोकता है किसी व्यक्ति को अगर पथरी है तो आप नींबू पानी का सेवन करे इससे पथरी गल जाती है


    किडनी पथरी के लक्षण
    • पेशाब मे जलन दर्द
    • जी मचलना या उल्टी
    • पेशाब के साथ खून का निकालना
    • अंडकोषो मे तकलीफ
    • पेशाब आते वक्त तकलीफ और बूंद बूंद पेशाब होना
    तो यह कुछ लक्षण है जिससे मालूम होता है की आपको पथरी हो सकता है

    पथरी होने के कारण

    ➤ पानी कम मात्रा मे लेने से - 
    जब कोई व्यक्ति पानी पीने मे कमी करता है तो पेशाब भी बहुत कम लगता है ऐसे मे हमारे शरीर मे मौजूद खनिज और लवण पेशाब के रास्ते बाहर न जाकर किडनी पर या शरीर के किसी अन्य भाग मे जमा हो जाते है | इस कारण से पथरी हो सकता है | अगर आपको पसीना बहुत अधिक / पेशाब अधिक मात्रा मे आता है तो आपके शरीर मे पानी की कमी हो जाती है इस वजह से भी पथरी हो सकता है |

    ➤ द्वाए भी है पथरी होने के कारण 

    कभी कभी हमे कुछ एसी द्वाए लेनी होती है जिससे पेशाब अधिक मात्रा मे हो और यह दवा पथरी का कारण भी बन सकती है | अन्य द्वाए पथरी बनाने वाली जैसे कैल्शियम युक्त एंटासिड और एड्स की दवा खाने से पथरी होने की संभावना होती है |

    ➤ पेशाब समय से न करने से 

    बहुत से लोग सवाल करते है की हम पानी भरपूर मात्रा मे लेते थे फिर भी क्यो मुझे पथरी हो गई है ? आपको बता दे किडनी की पथरी के इलाज के लिए पानी पीना अधिक मात्रा मे काफी नहीं है | जब तक पेशाब के रास्ते शरीर मे मौजूद विषैले तत्वो को न बाहर किया जाये | कुछ लोग अपने काम मे इतना व्यस्त हो जाते है की समय मे पेशाब का त्याग और मलमूत्र का त्याग नहीं करते है तो ऐसे मे इन लोगो को पथरी होने की संभावना अधिक बन जाती है |