रामनवमी क्यों मनाया जाता है का इतिहास

रामनवमी क्यो मनाया जाता है Ram navami kyu manaya jata hai राम नवमी का इतिहास हिंदी में रामनवमी का महत्व रामनवमी माहिती मराठी Ram Navami 2023

    रामनवमी क्यों मनाया जाता है का इतिहास : राम नवमी हिन्दू धर्म का एक प्रमुख त्यौहार है जो हर साल बड़े धूमधाम से मनाया जाता है ऐसे में आज के लेख में रामनवमी क्यों मनाया जाता है रामनवमी का इतिहास क्या ई जाने (ram navami kyu manaya jata hai)

    रामनवमी क्यों मनाया जाता है

    Ram navami kyu manaya jata hai: कहा जाता है की राम नवमी का त्योहार भगवान विष्णु के 7वे अवतार भगवान राम है और इस उपलक्ष्य मे राम नवमी मनाई जाती है इसी दिन राजा दशरथ की सबसे बड़ी रानी कोशल्या ने भगवान राम को जन्म दिया था जो भगवान सरी कृष्ण के 7वे अवतार थे यह त्योहार भारत मे बड़े धूम धाम से मनाया जाता है साथ ही यह फेस्टिवल भारत का प्रमुख त्योहार है (Ram navami kyu manaya jata hai)
    ram navami kyu manaya jata hai

    रामनवमी का इतिहास Ram navami history in Hindi

    Ram navami history in hindi: भारत मे रामनवमी का पर्व बहुत ही आस्था और श्रद्धा से मनाया जाने वाला पर्व है इस पर्व के दिन ही चेत्र रामनवमी का अंत होता है | हिन्दू धर्म मे रामनवमी का विशेष महत्व है क्योकि इस दिन ही भगवान श्री नाम का जन्म हुआ था | भक्तजन इस तिथि को धूम धाम से मनाते है साथ ही पवित्र मे जाकर स्नान करते है | माना जाता है स्नान से पुण्य प्राप्त होता है ram navami history in hindi
    • पुराणो से पता चलता है कि भगवान श्री नाम का जन्म मध्याह्न काल मे हुआ था
    • मध्याह्न काल मे जन्म होने के कारण इस दिन तीसरे प्रहर तक व्रत रखा जाता है और दोपहर मे राम पर्व को मनाया जाता है
    • इस दिन भगवान श्री राम और रामचरितमानस की पूजा पाठ करना उचित है
    • नवमी पर श्री राम मूर्ति को शुद्ध करने के लिए पवित्र ताजे जल से स्नान कराना चाहिए फिर वस्त्रो से सजाकर आरती, पुष्प और पीला चन्दन इत्यादि को अर्पित करना चाहिए और भगवान राम की पूजा करे
    • भगवान राम की भक्ति के लिए अखंड पाठ भी कर सकते है
    • भगवान श्रीराम को दूध, दही, घी, शहद, चीनी मिलाकर बनाया गया पंचामृत तथा भोग अर्पित किया जाता है। 
    • भगवान श्रीराम का भजन, पूजन, कीर्तन आदि करने के बाद प्रसाद को पंचामृत सहित श्रद्धालुओं में वितरित करने के बाद व्रत खोलने का विधान है

    👉शादी के लिए लड़की लड़का का नंबर फ्री में पाए रजिस्टर करे

    Iklan Atas Artikel

    Iklan Tengah Artikel 1

    Iklan Tengah Artikel 2

    Iklan Bawah Artikel