वॉइस ओवर आर्टिस्ट क्या होता है कैसे बने

    Voice Over Artist वॉयस ओवर प्रॉडक्शन की तकनीकी है जिसमे किसी व्यक्ति की आवाज को जो किसी कहानी का हिस्सा नहीं है रेडियो, टेलीविजन, प्रॉडक्शन, फिल्म निर्माण इत्यादि कार्यो मे उपयोग मे लिए जाता है.

    वॉइस ओवर आर्टिस्ट क्या होता है ?

    वॉयस ओवर आर्टिस्ट का काम अपनी आवाज को देना है जैसे - किसी विज्ञापन मे, औडियो बुक्स, एनीमेशन मूवी मे, प्रोमोशनल काल मे, रेडियो टेलीविजन, और हवाई जहाज मे सूचना इत्यादि देने मे प्रयोग की गयी आवाज ही वॉयस ओवर कहलाती है और वॉइस देने वाले को आर्टिस्ट कहा जाता है

    Voice Over Artist kaise bane

    सिंक्रोनस वार्ता, जहा वॉयस ओवर मे एक ही समय पर हो रही कारवाई का वर्णन करना करना होता है वॉयस ओवर अब एक आम तकनीक बन गई है इसका प्रयोग सिनेमा मे किया जाता है जहां आमतौर पर वॉयस ओवर को पहले ही रिकार्ड किया जाता है और फिल्म एंव वीडियो की शुरुवात मे रख दिया जाता है |वॉयस ओवर आर्टिस्ट का उपयोग सूचनाओ की व्याख्या करने के लिए, डॉक्यूमेंटरी या न्यूज़ रिपोर्टर मे, वीडियो गेम, एनीमेशन मूवीज और ऑन होल्ड संदेशो आदि मे किया जाता है

    वॉयस ओवर आर्टिस्ट कैसे बने ?

    एक्टिंग, थियेटर संस्थान, मल्टीमीडिया हाउसेज ही वॉयस ओवर ट्रेनिंग के लिए शार्ट टर्म डिप्लोमा प्रोग्राम चलाते है यह क्षेत्र बहुत ही प्रतिस्प्धारत्मक है इसलिए वॉयस ओवर आर्टिस्ट को नौकरी खोजने के लिए बाहर जाना होना और नेटवर्क बनाना बहुत ही जरुरी इसके लिए अलग किसी शैक्षिक योग्यता की जरुरत नहीं होती है बस आपकी आवाज स्पष्ट लहजे वाली होनी चाहिए वॉयस ओवर आर्टिस्ट के लिए प्रमुख शैक्षिक संस्थान - वॉयस बाजार मुंबई, इंडियन वॉयस - ओवेर्स मुंबई

    अगर आप इस  वॉयस ओवर आर्टिस्ट की शुरुवात करने मे कामयाब हो जाते है तो आपको इस लाइन मे शुवाती दौर मे ही 40 से 50 हजार प्रतिमाह बहुत ही आराम से कमा लेते है |