यजीद कौन था किसने मारा ?

यजीद कौन था किसने मारा ? इमाम हुसैन का किस्सा यज़ीद को किसने मारा इमाम हुसैन का मकबरा यज़ीद कैसे मरा कर्बला के बाद क्या हुआ कर्बला का युद्ध

    यजीद कौन था किसने मारा ? यजीद की मौत का भी वक्त आ चुका था, तीन साल आठ महीने गुजर चुके थे, यजीद की मौत कैसे हुई ? इसकी दो वजहे बताई जाती है, पहला की यजीद शराब पीता था और शराब के नशे में इतना धुत रहता था की फेफड़ा ख़राब हो था, इस वजह से पुलंज की बिमारी हो गयी थी, जिस कारण यजीद तड़प तड़प कर मरा. यजीद की मौत का सिलसिला पुरे ३ दिन का था.

    यजीद कौन था को किसने मारा ?

    दूसरा कारण - यजीद जालिम शिकार पर जाने का बहुत शौक़ीन था, एक बार यजीद शिकार खेलने जंगल में गया, पहाडियों के बीच से जा रहा था की यजीद की नजर एक इसाई लड़की पर पड़ गयी, वह इसाई लड़की बहुत खुबसूरत लड़की थी, इसलिए यजीद उस लड़की का आशिक हो गया, इस तरह से यजीद उस लड़की को ढूंढने दुसरे दिन जंगल गया, तीसरे दिन भी गया, इस तरह से यजीद उस लड़की का मक़ाम किसी तरह से हाशिल कर लिया और उस लड़की से बताया - " मैं अमीरे शाम हूँ " इस वख्त मेरी ही हुकूमत ही चल रही, इसाई लड़की ने सूना था जो इस वख्त अपनी इमारत का दावा कर रहा है वह हुसैने इब्ने अली का खून करवा दिया है.

    Yazeed Ko kisne Mara


    लड़की समझ गयी और उसने यजीद से कहाँ ठीक, तुम ही हो जिसे अमीरे शाम कहा जाता है, हाँ, तुम्हारा नाम ही यजीद इब्ने मविदा है यजीद ने कहाँ हाँ, लड़की ने कहाँ अच्छा ठीक है, तुम अपने हरम में अपने महल में मुझे ले चलना चाहते हो तो मैं चलने के लिए तैयार हूँ लेकिन एक शर्त है -

    कल आओ तुम, फिर उसके बाद मैं तुम्हारे साथ चलने की तैयारी कर लेती हूँ फिर यजीद दुसरे दिन अपने 8 सवारों को लेकर गया शिकार के लिए, और सारे लोगो को पीछे कर दिया और लड़की के मकान के नजदीक गया तो मकान के अन्दर से लड़की निकली, लेकिन लड़की ने खंजर छुपा लिया था बगल में और यजीद के घोड़े के पीछे बैठ गयी.

    जब यजीद बात करते हुए आगे बढ़ा तो इसाई लड़की ने बहुत ही फुर्ती से खंजर को निकाला और निकालने के बाद पीछे से खंजर यजीद को मारा पुस्त में, खंजर का लगना था कि वह अचानक से वह जमीन पर गिरा, फिर लड़की ने फुर्ती से लड़की ने खंजर मारा और यजीद संभल न सका, इस तरह से इसाई लड़की ने यजीद को कई बार खंजर से वार किया और उसे वही काट करके रख दिया.

    अब लड़की वहां से निकल आयी लेकिन यजीद का कटा फटा जिस्म वही पड़ा था, काफी समय के बाद जब तलाशते हुए यजीद के सिपाही गए तो देखा यजीद का कटा फटा जिस्म पड़ा है. तो सिपाही उसके जिस्म को उठाकर महल ले आए . तो इस तरह से यजीद की मौत हुई और यजीद को एक इसाई लड़की ने मारा.

    👉शादी के लिए लड़की लड़का का नंबर फ्री में पाए रजिस्टर करे

    Iklan Atas Artikel

    Iklan Tengah Artikel 1

    Iklan Tengah Artikel 2

    Iklan Bawah Artikel