सेंसर मोबाइल फोन क्या होता है ?

    sensor meaning in hindi: आगे जाने सेंसर मोबाइल के बारे मे जानकारी जैसे प्रोक्समिटी सेंसर, एक्सीलरोमीटर और जाइरोस्कोप सेंसर, जीपीएस सेंसर,  एंबीयट लाइट सेंसर, बायोमैट्रिक सेंसर 

    आजकल स्मार्टफोन मे कई तरह के सेंसर प्रयोग किए जाते है जिसमे आई आर ब्लास्टर एक तरह का इन्फ्रारेड कंट्रोल होता है | जो आजकल के कुछ स्मार्टफोन मे इस्तेमाल किए जा रहे है | इसकी मदद से आप टीवी, एसी, म्यूजिक सिस्टम को फोन के साथ पेयर करके यूनिवर्सल रिमोट बना सकते है | NFC को नियर फील्ड कम्यूनिकेशन भी कहा जाता है | सैमसंग के हाइ एंड स्मार्टफोन मे यह सेंसर इस्तेमाल होता है | जिसकी मदद से सैमसंग पे पर आप अपने एटीएम कार्ड को टच करके पेमेंट कर सकते है

    sensor meaning in hindi

    सेंसर मोबाइल फोन क्या होता है ?

    किसी भी इलेक्ट्रानिक प्रॉडक्ट मे यदि कोई काम अपने आप हो जाता है तो उसमे सेंसर का हाथ होता है आपने गौर किया होगा कि जब आप अपने मोबाइल फोन से काल करने के बाद उसे अपने कान के पास ले जाते है तो उसकी स्क्रीन अपने आप बंद हो जाती है ऐसा सेंसर के कारण होता है इसी तरह के और भी कई तरह जे सेंसर हमारे स्मार्टफोन मे इस्तेमाल होते है सेंसर के अलग अलह काम होते है

    सेंसर मोबाइल फोन ?

    • प्रोक्समिटी सेंसर - जब कोई वस्तु स्मार्टफोन के समीप होती है तो यह सेंसर उसकी मौजूदगी का पता लगा लेता है | यह सेंसर स्मार्ट के ऊपरी हिस्से मे फ्रंट कैमरे के पास लगा होता है यह सेंसर उस समय सक्रिय हो जाता है जब किसी को काल लगाने के बाद अपने कान के पास फोन को ले जाते है फिर यह सेंसर आपके फोन की लाइट स्वत बंद कर देती है
    • एक्सीलरोमीटर और जाइरोस्कोप सेंसर - यह सेंसर आपको बता देता है कि आपका स्मार्टफोन किस दिशा मे घूमा हुआ है | जब आप वीडियो देख रहे होते है खुद के स्मार्टफोन पर तो आपने देखा होगा वीडियो प्रोट्रेट मोड से लैंडस्केप मोड मे घुम जाता है | इस तरह से आपके स्मार्टफोन मे वीडियो फुल्ल साइज़ मे अपने आप हो जाती है | लेकिन यह सेंसर उस समय काम करता है जब आप अपने मे ऑटो रोटेशन ऑन करते है 
    • जीपीएस सेंसर - यह सेंसर लगभग सभी तरह के स्मार्टफोन मे इस्तेमाल किया जाता है | जीपीएस का मतलब होता है ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम यानि भूमंडलीय स्थिति निर्धारण | इस सेंसर की मदद से डिवाइस की लोकेशन पता करने मे मदद मिलती है | यह सेंसर कई तरह के सेटेलाइट से जुड़ कर आपको बता देती है कि आप इस समय कहा है | यह सेंसर उस समय काम नहीं करती है जब आप इंडोर या बेस\मेंट मे हो या आसमान के घने बादल हो | क्योकि इसे सेटलाइट से जुडने मे यह लेयर मुश्किले पैदा करती है | साथ ही जीपीएस सेंसर स्मार्टफोन मे इंटरनेट कनेक्टवटी होने पर ही काम करता है | यानि आपके स्मार्टफोन मे इंटरनेट डाटा बंद हो तो यह सेंसर काम नहीं करेगा | जीपीएस सेंसर इंटरनेट डाटा पर काम करता है | यह स्मार्टफोन की बैटरी को जल्दी डिस्चार्ज कर देता है | लेकिन इस सेंसर की मदद से ही कई तरह के मेप्स आपके स्मार्टफोन मे काम करते है | साथ ही अगर आपका स्मार्टफोन काही खो गया है तो जीपीएस ट्रैकर की मदद से आपके स्मार्टफोन को तलाशने मे मदद करते है
    • एंबीयट लाइट सेंसर - यह सेंसर स्मार्टफोन के डिस्प्ले की ब्राइटनेस को रोशनी के हिसाब से एडजस्ट तो करता है | जैसे - जब आप अंधेरे मे होते है तो फोन की लाइट ऑटो कम हो जाती है और उजाले मे आने पर खुद ही अधिक हो जाती है | इससे आपके फोन की बैटरी ज्यादा देर तर्क चलती है 
    • यह सेंसर मूल रूप से स्मार्टफोन के कैमरे के साथ मिलकर रियलटी एप्स के साथ काम करता है | यह सेंसर स्मार्टफोन मे कैमरा एप्स की मदद से एनिमेटेड तस्वीर भी निकाल देता है | जैसा की आजकल युवाओ मे विभिन्न फेस वाली तस्वीर निकालने का प्रचलन है | यह सेंसर कई तरह के मोबाइल गेम्स खेलने मे मदद भी करता है 
    • बायोमैट्रिक सेंसर - इसका इस्तेमाल आज कल के सभी मिडरेंज और हाइरेंज के स्मार्टफोन मे किया जा रहा है | फिंगरप्रिंट सेंसर स्मार्टफोन मे इसी सेंसर के जरिये काम करता है | यह सेंसर स्मार्टफोन मे दर्ज किए गए अंगूठे या उंगली को स्कैन करके डाटा इकट्ठा कर लेता है | और जब दूसरी बार सेंसर पर उसी उंगली या अंगूठे को रखा जाता है तो इकठ्ठा की गई जानकारी को मिला लेता है
    • आधार पहचान पत्र मे इस्तेमाल किया जाना वाला सेंसर भी बायोमैट्रिक सेंसर ही होता है बायोमैट्रिक सेंसर मे फिंगरप्रिंट के अलावा रेटिना स्केनर भी आता है